Wednesday, December 15, 2004

गणित की नई महिमा

भई आज सुबह जाना की गणित में हम कितने कमजोर रह गऐ हम तो केवल गुणा भाग ही सीखे, यहाँ देखें आप साधू साधवियाँ क्या क्या सीख सिखा गऍ

मेरे अश्क भी हैं इसमें
यह शराब ऊबल ना जाऍ
मेरा जाम पीने वाले
तेरा हाथ जल ना जाऍ

1 Comments:

Blogger आशीष said...

सही है। पढ़ने पर ही पता चलेगा, लेकिन मुझे लगता है कि कहीं ये लोकप्रियता पाने और पैसा कमाने का कोई सस्ता और घटिया तरीका न हो।

खैर आपका शेर अच्छा था।

आशीष

10:24 PM  

Post a Comment

<< Home